Wednesday, September 28, 2022
HomeHealth and FitnessStress Management: मानसिक तनाव से बचने के उपाय

Stress Management: मानसिक तनाव से बचने के उपाय

आजकल जिसे देखो वो मानसिक तनाव (Stress) में है किसीको जॉब की टेंशन, किसीको business की टेंशन, किसीको पैसो की दिक्कत और किसी को relationship में problem; वजह जो भी हो पर इन सबका नतीजा एक ही है मानसिक तनाव| मानसिक तनाव से हमारे दिमाग के साथ साथ हमारे शरीर पर भी बहोत बुरा असर पड़ता है|

तो इस आर्टिकल के ज़रिये मैंने मानसिक तनाव से बचने के लिए कुछ effective उपाय बताये है जिन्हे अपनाकर आप मानसिक तनाव से दूर रह पाओगे|

स्ट्रेस क्या है?

  • Basically कहा जाए तो मानसिक तनाव (stress) एक feeling है और एक mental state है जो हमारे life के अलग अलग situation में आती है, जैसे जब हम किसी मुसीबत या मुश्किल में होते है, जब हमे लगता है की चीज़े हमारे control में नहीं है या हमारे हिसाब से नहीं हो रही है तब हमे stress या तनाव महसूस होता है| Stress अगर कभी कभी आता है तो ये बिलकुल normal बात है लेकिन अगर आप हररोज़ हरवक्त stress में रहते है तो ये आपके मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के लिए ठीक नहीं इसलिए stress management हमारे लिए ज़रूरी है|

मानसिक तनाव के कारण

  • मानसिक तनाव आने के कई सारे reasons है जैसे job, business, पैसों की दिक्कत, breakup हो जाना, बेरोजगारी, किसी करीबी इंसान का निधन हो जाना, Social media का ज्यादा इस्तेमाल करना ऐसे और भी कही reasons है जो stress का कारण बनती है| हर एक इंसान के लिए stress का reason अलग है क्योंकि हर एक की life और हर एक की situations अलग है तो ऐसे में किस situation से गुज़र रहा है किस challenges को face कर रहा है ये वही इंसान जानता है|

मानसिक तनाव से होने वाले रोग

  • Heart diseases (हृदय रोग): मानसिक तनाव के कारण दिल की बीमारी होने का खतरा बढ़ता है|
  • Asthma (दमा): कई बार माता पिता के दबाव के कारण मानसिक तनाव आ जाता है और इससे asthma होने का खतरा होता है| ये ज्यादातर युवा वर्ग में या school जाने वाले बच्चो में होता है|
  • Diabetes (मधुमेह): मानसिक तनाव के कारण हमारे शरीर में cortisol नाम का हार्मोन कुछ ज्यादा मात्रा में release होता है जो की हमारे खून में glucose की मात्रा बढ़ाता है और इससे diabetes होने के chances बढ़ जाते है|
  • Obesity (मोटापा): Stress में ज़रुरत से ज्यादा भूख लगती है और इससे मोटापा बढ़ता है|
  • Headache (सिरदर्द): Stress सिरदर्द का कारण बनता है और ये काफी common है|
  • Premature death (असमय मौत): ज्यादा stress में रहने के कारण आपकी अकाल मृत्यु हो सकती है |
  • Accelerated aging (जल्दी उम्र होना): इंसान की उम्र कम हो जाती है और वो जल्दी बूढ़ा हो जाता है|
  • Depression and anxiety (अवसाद और चिंता): ज्यादा stress की वजह से इंसान depression में जा सकता है|

तनाव के लक्षण (Symptoms of stress):

  • सिरदर्द (Headache)
  • कब्ज़ की शिकायत (Digestive problem)
  • उच्च रक्तचाप (High blood pressure)
  • गठिया (Arthritis)
  • कुछ अजीब सा feel होना|
  • हर वक़्त एक डर सा लगना|
  • आत्महत्या के विचार आना (Suicidal thoughts)
  • पल भर में mood बदलना (Suddenly mood change)
  • बहोत ज्यादा रोना आना या दुःख होना |
  • एकाग्रता कम होना (Lack of focus)|

ऊपर दिए गए सभी तनाव या स्ट्रेस के लक्षण है…

चिंता को दूर करने के उपाय

1) Meditation (ध्यान):

 

  • stress management meditationमानसिक तनाव की वजह से हमारी एकाग्रता (focus) में कमी आती है और इस problem को दूर करने के लिए हमे हररोज़ ध्यान करना चाहिए क्योंकि ध्यान करने से हमारी एकाग्रता बढती है, हमारा मन स्थिर हो जाता है और meditation मानसिक तनाव से बचने के लिए भी मदद करता है|

2) योगा (Yoga):

stress management yoga

  • योगा करने से हमारा शरीर स्वस्थ्य (healthy) रहता है| योगा हमारे मानसिक तनाव को कम करता है, blood pressure को कम करता है, योगा से हमारी हृदय की गति (heartbeat) कम होती है, हररोज़ योग करने से हमें अच्छी नींद आती है, योगा की वजह से हमारा शरीर लचीला (flexible) बनता है, योगा करने से जल्दी बुढ़ापा नहीं आता|इसलिए मानसिक तनाव से बचने के लिए योगा भी बहुत ही ज्यादा फायदेमंद है|

3) नेगेटिव चीज़ों से दूर रहो:

  • Stress से दूर रहने के लिए आप को नेगेटिव चीज़ों से दूर रहना पड़ेगा जैसे की न्यूज़ चैनल, मन में नेगेटिविटी पैदा करने वाले टीवी सीरियल याफिर मूवीज| इसके अलावा आपको हमेशा डिमोटिवेट करने वाले, आपको नीचा दिखाने वाले और नेगेटिव बातें बोलने वाले लोगों से भी आप को दूर रहना है| ताकि आपका मन अंदर से शांत रह सकें और किसी भी तरह के नेगेटिव ख्यालों से और stress से खुद को दूर रख सकें|

4) Doctor की सलाह ले (Consult to the doctor):

  • कई लोग मानसिक तनाव का शिकार होने पर doctor या किसी मनोचिकित्सक (psychiatrist) की सलाह लेने से डरते है या ज़िज़क ते है क्योंकि उन्हें लगता है की कही उन्हें लोग पागल या कोई मानसिक रोगी ना समझे; पर ये stress और ये depression हम पर और ज्यादा हावी होने से बेहतर है की हम किसी मनोचिकित्सक की सलाह ले क्योंकि लोग क्या कहेंगे इससे ज्यादा आप खुद के बारे में क्या सोचते है, आप खुद की कितनी ज्यादा care करते है ये सबसे ज्यादा important है और मानसिक तनाव एक mental state है और इसका ये मतलब नहीं है की आप पागल हो; मानसिक तनाव किसी को भी हो सकता है| मनोचिकित्सक हमे इस मानसिक तनाव से बाहर निकलने के लिए एक सही राह दिखाते है|

4) खेल-कूद (sports):

  • अपने जीवन में खेल-कूद (sports) को शामिल करे इससे हमारे शरीर के साथ साथ दिमाग भी मजबूत होता है और हमारा stress level कम होता है और इससे मानसिक तनाव से बचने में बहुत मदद मिलती है|

5) ब्रेक ले (Take a break):

stress management take a break

  • कभी कभी जिंदगी में सब तरफ उथल पुथल मचती है ऐसे में क्या करे, कैसे करे कुछ समझ नहीं आता तो ऐसे situation में जल्दबाज़ी करने से या जल्दबाज़ी में फैसले लेने से हालात और बिगड़ सकते है और इससे आपका मानसिक तनाव और बढ़ सकता है| तो मानसिक तनाव से बचने के लिए ऐसे situation में थोड़ा break लेकर अच्छे ढंग से decision लेना ही सही होता है और इसमें आप अपने family member या अपनी सबसे करीबी दोस्तकी help ले सकते है|

6) किसी friend की या family members की help ले:

(Take a help from a friend or family members)

stress management help from friend or family member

  • आप कैसा महसूस कर रहे है, आप अपने अंदर कैसा feel कर रहे है, आपको physically और mentally कौनसी दिक्कत हो रही है ये सारी बाते अपने family member को या अपने किसी ऐसे friend को बताओ जो आपको अच्छे से समझता हो आपको support करता हो| तो बेझिजक होकर और एकदम खुलकर उनसे बात करो क्योंकि किसीसे बात करना और अपने problem के बारे में बताना बहुत ज़रूरी है इससे आपका मन हलका होता है, आप को एक mental support महसूस होता है और इससे आप को मानसिक तनाव से बचने में भी बहुत मदद मिलती है|

इन्हें भी पढ़े

So guys आपको ये वाला article कैसे लगा ये comment section में ज़रूर बताना; साथ ही साथ कुछ suggestions हो तो बता देना और आपको किस topic पर article चाहिए ये भी बता देना |

आपका कोई personal question हो तो आप मुझे selfhelpinhindi@gmail.com पे मेल कर सकते हो|

Thank you, stay connected & love you guys…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments