Monday, November 28, 2022
HomePersonality DevelopmentBest Motivational Speech in Hindi

Best Motivational Speech in Hindi

जीवन में आगे बढ़ने के लिए आपके अंदर Motivation का होना बहुत ही ज्यादा जरूरी है क्योंकि बिना Motivation के आप जीवन की कठिनाइयों में उलझ जाते हैं और ना चाहते हुए भी आप असफलता की ओर आगे बढ़ते जाते हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए हम आपके लिए Motivational Speech Hindi लेकर आए हैं,जिसे आप अगर पूरा पढ़ते हैं तो मैं पूरे विश्वास के साथ कह सकता हूं कि इससे आपके अंदर एक नयी ऊर्जा भर जायेगी और आप जीवन में सफल होने के लिए प्रेरित भी होंगे । 

हम सभी को पता है कि जीवन कठिनाइयों और मुश्किलों से भरा है, इस बात का सबसे अच्छा उदाहरण है कि आप जब भी किसी काम की शुरुआत करते हैं तो आपको बहुत सारी कठिनाइयों और परेशानियों का सामना करना पड़ता है और इन कठिनाइयों और परेशानियों के सामने कुछ लोग हार मान लेते हैं और कुछ लोग इनसे लड़ने की ठान लेते हैं। 

यदि आप भी इन कठिनाइयों और जीवन की परेशानियों से हार मान चुके हैं तो मेरा आपसे एक सवाल है”क्या आपके अंदर कठिनाइयों से लड़ने की हिम्मत नहीं है?अगर नहीं है तो आप एक कमजोर इंसान हैं और अगर है तो उठो और जागो इस Motivational Speech in Hindi को पढ़कर अपने जीवन की एक नई शुरुआत करो। कहते हैं जब जागो तब सवेरा है”  यह  Motivational thought आप को अंधेरे से प्रकाश की तरफ लेकर जाएगा। इसलिए इनको ध्यानपूर्वक पढ़ें – 

मोटिवेशन का क्या मतलब होता है?

मोटिवेशन का हिंदी में मतलब होता है “अभिप्रेरणा”अर्थात जीवन में किसी भी कार्य को पूरा करने के लिए प्रेरित करना ही मोटिवेशन कहलाता है। 

मोटिवेशन कितने तरह की होती है

मोटिवेशन मुख्य रूप से 2 तरह की होती है एक तो आंतरिक प्रेरणा (Internal motivation) और दूसरी बाहरी प्रेरणा (External motivation) होती है। 

Best Motivational Speech in Hindi –

जीवन में कामियाब होने के लिए आज से ही इन बातों को फॉलो करो  

1) कामयाब होने के लिए लक्ष्यो का निर्धारण करें 

कामयाब होने के लिए लक्ष्यो का निर्धारण करें

  • यदि आप सफलता को प्राप्त करना चाहते हैं तो उसका सबसे पहला कदम है कि आप अपने लिए लक्ष्यों का निर्धारण करें क्योंकि बिना लक्ष्यों के आपकी ऊर्जा व्यर्थ होती है और आप सही दिशा में कार्य नहीं कर पाते हैं। लक्ष्य निर्धारण करने से आप अपने समय का सदुपयोग कर पाते हैं और आपके अंदर उन लक्ष्यों को प्राप्त करने की जिज्ञासा भी जागृत होती है। 
  • अगर आप अभी तक अपने लक्ष्यों का निर्धारण नहीं कर पाए हैं तो आपको आज से ही अपने लिए एक सटीक और सही लक्ष्य निर्धारित करना आवश्यक है,अब पूरी तरह से यह आपके ऊपर निर्भर करता है कि आप किस तरह का लक्ष्य अपने लिए निर्धारित करने जा रहे हैं और क्या आप उस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए गंभीर है या नहीं। 
  • बड़े लक्ष्यों को प्राप्त करने का सबसे आसान तरीका है कि आप उन सभी लक्ष्यों को छोटे-छोटे टुकड़ों के अंदर विभाजित कर ले और सबसे पहले बहुत ही छोटे लेवल से उस कार्य की शुरुआत करें। जैसे कि आप पढ़ाई करना चाहते हैं और आपका पढ़ने का मन नहीं होता है तो सबसे पहले आपको यह सोचना है कि मुझे सिर्फ आज 15 मिनट के लिए पढ़ना है,अगर आप ऐसा कर पाते हैं तो आप धीरे-धीरे अपनी इस अवधि को बढ़ा सकते हैं और निश्चित ही आप सफलता को प्राप्त कर सकते हैं क्योंकि कहा जाता है कि सफलता एक दिन में नहीं मिलती है लेकिन एक दिन जरूर मिलती है। 

2) असफल होने के डर से मत डरो:

  • जब भी आप किसी भी नई कार्य की शुरुआत करते हैं तो आपको उसमें असफल होने का डर सताता है और आप कतराते हैं कि अगर मैं इस काम के अंदर सफल नहीं हो पाया तो पता नहीं लोग मेरे बारे में क्या कहेंगे? अगर आपके अंदर यह डर होता है तो आप जीवन में कभी भी सफल नहीं हो सकते हैं क्योंकि इस दुनिया में सभी सफल लोग एक बार नहीं बल्कि हजार बार असफल हुए हैं लेकिन आखिर में उनको सफलता ही मिली है। 
  • हारने का डर इंसान को हमेशा जीत से दूर लेकर जाता है और जिस इंसान के अंदर हारने का डर पूरी तरह से खत्म  हो जाता है,वह इंसान सफलता को जरूर प्राप्त करता है। सफलता को हासिल करने के लिए आपको जीत और हार को पूरी तरह से एक तरफ रखना होगा और अपने कार्य के ऊपर फोकस करना होगा। जब आपका कार्य के ऊपर फोकस होता है तो आप अपना 100% दे पाते हैं लेकिन अगर आप का फोकस परिणाम के ऊपर होता है तो आप अपना 100% नहीं दे पाते हैं, जिसकी वजह से आपकी सफलता आपसे धीरे-धीरे दूर चली जाती है। 

3) मानसिक और शारीरिक रूप से सेहतमंद रहे:

  • जीवन में सफलता को प्राप्त करने के कुछ नियम होते हैं और उन नियमों में एक सबसे महत्वपूर्ण नियम यह है कि आप शारीरिक और मानसिक रुप से हमेशा स्वस्थ बने रहें। शारीरिक रूप से स्वस्थ रहने का मतलब है कि आप अपनी सेहत का अच्छे से ख्याल रखें और मानसिक रूप से स्वस्थ रहने का मतलब है कि आप अपने अंदर अच्छे विचारों को उजागर करें और अपनी सोच को अच्छा रखें। 
  • यदि आप अपनी शारीरिक सेहत को अच्छा रखते हैं तो ही आप मानसिक सेहत को अच्छा रख सकते हैं और जब आप मानसिक रूप से सेहतमंद रहते हैं तो आपका दिमाग पूरी तरह से शांत होता है और आप किसी भी लक्ष्य को आसानी से प्राप्त कर सकते हैं। 

4) चिंता करना छोड़ दें और अपने कार्य पर फोकस करें:

चिंता करना छोड़ दें और अपने कार्य पर फोकस करें

  • जब आप किसी भी चीज को लेकर चिंतित होते हैं तो आपके दिमाग के अंदर सिर्फ उसी से रिलेटेड विचार आते रहते हैं, जिसकी वजह से आप सही और गलत के फर्क को भूल जाते हैं और आप सही निर्णय लेने में असमर्थ रहते हैं, जिसके बाद आपका हर एक निर्णय गलत ही होता है क्योंकि आप सही और गलत के फर्क को पूरी तरह से भूल जाते हैं; इसके लिए आपको सबसे पहले एक कागज और एक पेन लेना है और उस कागज के अंदर आपको अपनी उस समस्या को पूरी तरह से लिख देना है|
  • अब आपको विचार करना है कि किस तरह से आप अपनी इस समस्या को जड़ से खत्म कर सकते हैं? मैं पूरे विश्वास के साथ कह सकता हूं कि अगर आप इस तरह से करते हैं तो आप निश्चित ही इस समस्या के समाधान तक पहुंच जाते हैं, जिसके बाद उस कार्य की चिंता पूरी तरह से आपके दिमाग से खत्म हो जाती है और आप अपने कार्य के ऊपर फोकस कर पाते हैं, इसलिए चिंता को छोड़े और अपने कार्य पर फोकस करें। 

5) हमेशा अपने दिल की सुने

  • यदि आप जीवन में कुछ भी बड़ा हासिल करना चाहते हैं तो आपको हमेशा एक बात याद रखनी है कि हमेशा आपको उसी काम को करना है, जिस काम को करने की इजाजत आपका दिल आपको दे क्योंकि जब भी आप दिल से कोई भी कार्य करते हैं तो उसमें सफल होने की संभावना बहुत अधिक होती है। 
  • जब आप किसी भी कार्य को दिल से करते हैं तो उसके अंदर आप अपना 100% लगा देते हैं और जब किसी कार्य के अंदर आप अपना पूरा जोर लगा देते हैं तो आपका सफल होना निश्चित होता है। 
  • बहुत से लोग दूसरों के डर की वजह से अपने दिल की नहीं सुनते हैं और कोई भी ऐसा कार्य करने लग जाते हैं जो करना हम को बिल्कुल भी पसंद नहीं होता है. अगर आप भी दूसरों के डर से अपने रास्तो को बदल लेते हैं तो आप जीवन में कभी भी खुश नहीं रह सकते हैं। दिल से किए गए कार्य के अंदर आपको खुशी भी मिलती है और आपको सफलता भी मिलती है, इसलिए हमेशा अपने दिल की सुनो। 

जीवन में आगे बढ़ने के प्रेरणादायक विचार

जीवन में आगे बढ़ने के प्रेरणादायक विचार

  • अक्सर कहा जाता है कि इंसान की जैसी सोच होती है,वैसा ही वह इंसान होता है, जीवन में कुछ भी बड़ा करने के लिए सबसे पहले आपकी सोच का सही होना जरूरी है,जब आपकी सोच बदलती है तो आपकी दुनिया बदलती है। 
  • बदलाव इस प्रकृति का सबसे पहला नियम है, यदि आप समय के साथ खुद को बदलना जानते हैं तो आपकी सफलता निश्चित होती है। 
  • अपने आने वाले भविष्य को बदलने के लिए सबसे पहले आपको अपने आज को बदलना होगा क्योकि जब आपका आज बदलता है तो आपका आने वाला कल अपने आप ही बदलता है। 
  • सफलता कोई मुफ्त में मिलने वाली सौगात नहीं है जो आपको आसानी से मिल जाएगी, सफलता को हासिल करने के लिए आपको कड़ी मेहनत और लगन के साथ ही कार्य करना पड़ता है तब जाकर आपको एक दिन सफलता मिलती है। 
  • जीवन में एक समय ऐसा आता है जब आप पूरी तरह से टूट जाते हैं और आपके अंदर आगे बढ़ने की हिम्मत नहीं होती है, उस समय आपके पास में Choice होती है, एक तो आप पूरी तरह से टूट कर और हिम्मत हार कर बैठ जाए और दूसरा आप उठे और हर परेशानी का बहादुरी के साथ सामना कर करें। 
  • जीवन में कदम- कदम पर आपका कठिनाइयों से सामना होगा। यदि आप मानसिक रूप से मजबूत है तो आप उन कठिनाइयों का बहुत ही बहादुरी से सामना कर सकते हैं लेकिन अगर आप मानसिक रूप से कमजोर है तो कठिनाइयां आपको फ़सा लेंगी और आपको आगे बढ़ने से रोक देनी। 
  • जीवन में जब भी आपके सामने कोई भी मुश्किल आए तो उस वक्त आपको अपने अंदर एक बात को याद रखना है और अपने आपको बोलना है कि”यह  परेशानी मुझसे बड़ी नहीं है और मेरे अंदर इससे लड़ने की हिम्मत है और मैं इस परेशानी को पार करता हुआ आगे बढ़ सकता हूं। 
  • जब भी कोई परेशानी या मुश्किल जन्म लेती है तो उसके साथ में उस मुश्किल का हल भी होता है और अगर आप उस मुश्किल के हल हो जाने की कोशिश करते हैं तो आप कम समय के अंदर ही उसे बाहर आ सकते हैं और आगे बढ़ सकते हैं। 
  • हर इंसान के जीवन में कुछ अच्छी घटनाएं और कुछ पूरी घटनाएं होती है, बुरी घटनाएं इंसान को आगे बढ़ने से रोकती है क्योंकि जब भी आप बुरी घटनाओं को याद करते हैं तो आपका ध्यान बार-बार उसी घटना की तरफ होता है , जिसकी वजह से आप अपने आज के कीमती समय को गवा देते है। इसलिए जीवन में अगर आप आगे बढ़ना चाहते हैं तो आपको बुरी घटनाओं को सिर्फ एक घटना की तरह ही देखना चाहिए। 
  • बुरी घटनाएं आपके दिमाग को कुछ इस तरह से घेर लेती है कि आप कभी भी कुछ भी नया करने के बारे में सोच भी नहीं सकते हैं और कोई भी सही निर्णय लेने में असमर्थ हो जाते हैं, जिसकी वजह से आपके दिमाग के अंदर किसी भी प्रकार के नए विचार नहीं आते हैं और जब तक आपके दिमाग़ के अंदर कोई नए विचार पैदा नहीं होते हैं, तब तक आप जीवन में कुछ भी कार्य नहीं कर सकते हैं और सफलता सिर्फ आपके लिए महज एक शब्द ही बनकर रह जाती है। इसीलिए आपको बुरी घटनाओं को अपने जीवन में प्रेरणा का स्रोत मानकर आगे बढ़ना चाहिए और अपने जीवन की आज से ही एक नई शुरुआत करनी चाहिए। 

इंडिया का सबसे बेहतरीन मोटिवेशनल कौन है? 

इंडिया का सबसे बेहतरीन मोटिवेशनल स्पीकर संदीप माहेश्वरी है, जिन्होंने लाखों लोगों के जीवन को प्रेरित किया है और ना सिर्फ इंडिया के अंदर की बल्कि पूरी दुनिया के अंदर ही एक बहुत बड़ा बदलाव लेकर आ रहे हैं|

Conclusion

हम आशा करते हैं कि आपको आज का यह लेख “Motivational Speech Hindi” जरूर पसंद आया होगा। यदि आप भी जीवन में आगे बढ़ना चाहते हैं और सफलता को प्राप्त करना चाहते हैं तो ऊपर दिए गए मोटिवेशनल स्पीच को आप पढ़ सकते हैं क्योंकि जब आप मोटिवेशनल स्पीच को पढ़ते हैं तो आपके अंदर एक नई ऊर्जा का संचार होता है, जो आपको आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करती है और सफलता की तरफ लेकर जाती है। 

इन्हें भी पढ़ें

So guys आपको यह  वाला article कैसे लगा यह  comment section में ज़रूर बताना; साथ ही साथ कुछ suggestions हो तो बता देना और आपको किस topic पर article चाहिए यह  भी बता देना।

आपका कोई personal question हो तो आप मुझे selfhelpinhindi@gmail.com पे मेल कर सकते हो। Thank you, stay connected & love you guys…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments