Hindi Best Motivational Short Story with Moral in (2023)

नमस्कार दोस्तों SelfhelpinHindi.com पर आप सभी का स्वागत है। कहानी(Story) सुनना किसको पसंद नहीं होता है। बचपन से लेकर अब तक हम अपने माता-पिता, दादा-दादी, नाना-नानी, बुजुर्गों से कहानियां सुनते आ रहे हैं। कहानियां जितनी मनोरंजक होती है, उतनी ही शिक्षाप्रद भी होती है। 

इतिहास में बहुत से ऐसे साहित्यकार हुए हैं, जिन्होंने विश्व प्रसिद्ध (Famous Hindi Story)  कहानियां लिखी है। जैसे अकबर बीरबल, पंचतंत्र, अकबर एंथनी की कहानी इत्यादि।

दोस्तों आप इन Short Story With Moral की मदद से न सिर्फ अपना मनोरंजन कर सकते हैं। बल्कि जीवन में आगे बढ़ने की सीख भी ले सकते हैं। इन मजेदार स्टोरी इन हिंदी की मदद से आपको जीवन जीने की शिक्षा मिलती है एवं साथ ही साथ आगे बढ़ने की प्रेरणा भी मिलती है। 

Hindi Short Story for Kids (2023) 

  • आज इस लेख में हम आपको Hindi Very Short Story with Moral वाली कुछ प्रसिद्ध कहानियां प्रस्तुत करने जा रहे हैं। जिनको पढ़कर आप नैतिक शिक्षा को ग्रहण कर सकते हैं। ये सभी Children Story in Hindi खासकर उन बच्चों के लिए है जो मनोरंजन के साथ-साथ मजेदार हिंदी कहानियां भी सुनना चाहते हैं। 

1) चूहे और शेर की कहानी – 

Hindi Motivational Short Story with  Moral

  • एक बार की बात है एक जंगल में चूहा और शेर दोनों रहा करते थे। एक बार की बात है, जब उस जंगल में शेर अपने स्थल पर निंद्रा में होता है। उसी समय चूहा शेर के ऊपर उछल कूद करने लग जाता है। उछल कूद करने पर शेर अपनी नींद से जाग जाता है और चूहे को पकड़ने की कोशिश करता है। 
  • इस प्रक्रिया पर चूहा शेर से डर जाता है और शेर कहता है कि तुमने मुझे निंद्रा से उठाया है तो आज मैं तुम्हें खाकर अपनी भूख को खत्म करूंगा। इस बात पर चूहा कहता है कि मैं अत्यधिक छोटा हूं और आपका शरीर अत्यधिक बड़ा है तो मुझे खाने से आपकी भूख नहीं मिट सकती है तो कृपया करके मुझे छोड़ दे और चूहा शेर को कहता है कि यदि आप आज मुझे छोड़ देते हैं तो 1 दिन जब तुम किसी मुसीबत में फस जाएंगे तो मैं आपकी मदद जरूर करूंगा और यह सुनकर शेर चूहे को छोड़ देता है और चूहा वहां से चला जाता है। 
  • कुछ दिन बाद जब शेर जंगल में घूम रहा होता है तो कुछ शिकारी शेर को पकड़ने के लिए शेर पर जाल डालते हैं। शेर उस जाल में फस जाता है और बाहर निकलने का प्रयत्न करता है लेकिन उसके बाद भी वह जाल से बाहर नहीं निकल पाता है। 
  • उसी समय चूहा वहां से गुजर रहा होता है तो शेर को मुसीबत में देखकर चूहा तुरंत शेर के पास पहुंचता है और पूरे जाल को धीरे-धीरे करके काट देता है और शेर को जाल से बाहर निकाल देता है। चूहे की इस मदद को देखकर शेर को एहसास होता है कि यदि उस दिन वह चूहे को खत्म कर देता तो शायद आज उसकी जान नहीं बच पाती और यह कहकर शेर चूहे का धन्यवाद करता है। 
  • Moral of This Hindi Short Story – इस कहानी से हमको यह शिक्षा मिलती है कि यदि आप किसी दूसरे व्यक्ति के साथ बुरा करते हैं तो आपके साथ भी बुरा अवश्य होता है। लेकिन यदि आप भलाई करते हैं तो आपके साथ भला ही होता है। इसीलिए कहा जाता है कि “कर भला तो हो भला” 

2) एक छोटी सी चिड़िया की कहानी – 

Hindi Motivational Short Story with Moral

  • Hindi Short Story में एक समय की बात है, जब एक घने जंगल में एक छोटी सी चिड़िया रहा करती थी। एक दिन उस जंगल में भीषण आग लग जाती है और उसकी वजह से सभी जानवर इधर-उधर भागने लग जाते हैं। आग इतनी भीषण लग गई थी कि सभी जानवर में भगदड़ मची हुई थी और हर जानवर अपनी जान बचाने में लगा हुआ था 
  • उसी जंगल में वह चिड़िया रहती थी। चिड़िया ने देखा कि आग की वजह से सभी जानवर काफी ज्यादा डरे हुए हैं तो उसको उन सभी जानवर की मदद करनी चाहिए। 
  • यह सोचकर चिड़िया पास की नदी के पास जाती है और अपनी चोंच में पानी की बूंद भर कर लाती है और आग को बुझाने का प्रयत्न करती है। 
  • यह देखकर पास में बैठा कबूतर चिड़िया को कहता है कि तुम कितनी मूर्ख हो। इतनी भीषण लगी हुई है और तुम्हें लगता है कि तुम सिर्फ इतने पानी से आग को बुझा सकती हो। इस बात पर चिड़िया कबूतर को बड़ी विनम्रता के साथ कहती है कि आग चाहे कितनी भी भीषण क्यों ना हो मुझे अपना कर्तव्य करते रहना चाहिए। यह बात सुनकर कबूतर काफी ज्यादा प्रभावित होता है और चिड़िया के साथ आग बुझाने में मदद करता है। 
  • Hindi Short Story Moral – यह कहानी हमको सिखाती है कि जीवन में चाहे कठिनाइयों और परेशानियां कितनी भी बड़ी क्यों ना हो। एक व्यक्ति का कर्तव्य सिर्फ कर्म करना होता है और कभी भी कर्तव्य करने से पीछे नहीं हटना चाहिए। 

3) झूठे दोस्त की कहानी – 

Hindi Motivational Short Story with Moral

  • एक बार की बात है, कौवा और हिरण दोनों बहुत ही अच्छे दोस्त थे। दोनों ही एक दूसरे के सुख-दुख में साथ दिया करते थे। लेकिन एक दिन कौवे ने सियार के साथ हिरण को देख लिया था और कव्वे ने इस बात पर हिरण को समझाया कि सियार एक बहुत ही चतुर जानवर है और वह किसी को भी अपने चंगुल में फंसा लेता है तो तुम्हें उसका साथ छोड़ देना चाहिए। लेकिन हिरण ने कौवा इस बात पर ध्यान नहीं दिया और सियार के साथ खेत में चला गया। 
  • की खेत में किसान ने हर जगह जाल लगा रखे थे तो हिरण उस सियार की बात में आकर के उस जाल में फंस जाता है और सियार कहता है कि अब मैं किसान को बुलाने जा रहा हूं। यह कहकर सियार किसान को बुलाकर ले आता है। लेकिन उसी दौरान कौवा वहां आता है और हिरण को कहता है कि तुम यहां पर एक जगह लेट जाओ और हिरण कौवे की यह बात मान कर जमीन पर एक जगह लेट जाता है। 
  • किसान के आने पर वह सोचता है कि यह हिरण मर गया है और जाल को खोल देता है। जिसके बाद हिरण उठकर वहां से भाग जाता है और इस बात पर किसान को सियार पर बहुत ज्यादा गुस्सा आता है और उसको पीटकर वहां से भगा देता है। 
  • Moral of Story – इस कहानी से हमको यह सीख (Lesson) मिलता है कि कभी भी किसी भी इंसान पर या चीज़ पर आंख बंद करके भरोसा नहीं करना चाहिए। 

4) मां के प्यार की कहानी – 

Hindi Motivational Short Story with Moral

  • एक बेहद ही खूबसूरत महल में एक सुंदर परी रहा करती थी। जिसको अपनी खूबसूरती का बेहद ही घमंड था और उस परी ने महल में यह घोषणा कर दी कि जिस भी जानवर का बच्चा सबसे ज्यादा खूबसूरत होगा। उसको परी इनाम देगी। 
  • इस बात को सुनकर सभी प्राणी काफी ज्यादा खुश हो गए और सभी अपने बच्चों के साथ एक जगह इकट्ठा हो गए। परी सभी प्राणी के बच्चों पर ध्यान देने लगे तो उसका ध्यान एक बंदरिया के बच्चे पर गया तो इस बात पर वह परी कहती है कि यह बच्चा कितना बदसूरत है। इसके माता-पिता को कभी भी इनाम नहीं मिल सकता है। 
  • यह बात सुनकर बंदरिया के माता-पिता को बेहद ही दुख हुआ और माता अपने बच्चे को गले लगा कर कहती है कि मेरा बच्चा इस दुनिया का सबसे सुंदर प्राणी है और मैं इसे बेहद ही प्यार करती हूं और मेरे लिए तो यही सबसे बड़ा पुरस्कार है। भगवान इसको लंबी उम्र दे। 
  • Moral of This Hindi Short Story- इस कहानी से हमको यह शिक्षा मिलती है कि मां जैसा प्यार इस दुनिया में कोई दूसरा नहीं कर सकता है। 

5) दोस्ती की कहानी – 

  • राम नाम का एक लड़का अपनी गर्मियों की छुट्टी मनाने के लिए अपने मामा के घर जाता है। क्योंकि वहां पर आम का बगीचा होता है। जहां राम हर रोज ढेर सारे आम खाता था लेकिन राम अपने दोस्तों को एक भी आम नहीं खिलाता था 
  • एक दिन की बात है, जब राम को खेलते-खेलते जोरदार चोट लगती है तो राम के सभी दोस्त मिलकर राम को अस्पताल लेकर जाते हैं और उसका इलाज करवा कर उसको घर पर छोड़ते हैं तो इस बात को राम के सभी दोस्त घर पर आकर उसकी मम्मी को सारी बात बताते हैं तो इस बात पर राम की मम्मी बेहद ही खुश होती है और राम के सभी दोस्तों को ढेर सारे आम खिलाती है। 
  • जब राम ठीक होता है तो राम को दोस्ती के महत्व के बारे में पता लगता है कि यदि उसके दोस्त नहीं होते तो शायद आज राम ठीक नहीं होता और उस दिन के बाद से राम जब भी खेलता तो अपने दोस्तों के साथ खेलता था और उन सभी दोस्तों को ढेर सारे आम खिलाता था। 

Moral of Story – इस कहानी से हमको यह शिक्षा मिलती है कि जीवन में दोस्त सुख और दुख में हमारा साथ देते हैं तो हमको उनकी कदर करनी चाहिए और उनसे कुछ भी नहीं छुपाना चाहिए। 

6) मूर्ख गधे की कहानी – 

Hindi Motivational Short Story with Moral

  • एक बार की बात है एक व्यक्ति हर रोज नमक बेचने के लिए गधे पर बाजार जाता था। बीच रास्ते में उसको एक नदी पार करनी पड़ती थी। नदी पार करते वक्त वह अचानक से नदी में जा गिरा और सारा नमक नदी में बह गया। 
  • पूरा नमक खुलकर पानी में घुल जाता है, जिसके बाद सारा थैला हल्का हो जाता है। इस बात पर गधा बेहद ही खुश होता है लेकिन नमक बेचने वाले व्यक्ति को काफी ज्यादा नुकसान हो जाता है तो इस बात पर नमक बेचने वाले व्यक्ति ने गधे को सबक सिखाने का फैसला लिया और गधे पर एक रुई से भरा बैग लाद देता है और फिर गधे ने वही चाल चली और उसको लगा कि ये थैला भी हल्का हो जाएगा और गधे ने उस बैग को भी पानी में गिरा दिया। 
  • जैसे ही रुई पानी में गिरती है तो वह अत्यधिक गीली होने की वजह से और भी ज्यादा भारी हो जाती है तो इस बार गधे को नुकसान उठाना पड़ता है और नमक बेचने वाला काफी ज्यादा खुश होता है। 
  • Moral of Story – इस कहानी से हमको यह शिक्षा मिलती है कि हमेशा किस्मत के भरोसे नहीं बैठना चाहिए। बल्कि अपनी बुद्धि का इस्तेमाल करना चाहिए।

7)  हड्डी और कुत्ते की कहानी – 

Hindi Motivational Short Story with Moral

  • बहुत समय पहले की बात है एक कुत्ता खाने की तलाश में दिन-रात इधर-उधर भटकता रहता है। एक दिन उसको बीच सड़क पर एक हड्डी मिलती है। जिसे वो अपने मुंह में पकड़कर अपने घर की तरफ चल पड़ता है। बीच रास्ते में उसको एक नदी पार करनी पड़ती है तो उस नदी के ठीक विपरीत एक और कुत्ता मुंह में हड्डी लेकर खड़ा होता है। 
  • इस तरफ खड़े कुत्ते के मन में लालच आ जाता है और वह उस हड्डी को भी पाने की लालसा करता है। लेकिन जैसे ही उसने अपने मुंह को खोलता है तो उसके मुंह से हड्डी निकलकर नदी में बह जाती है और जैसे ही आगे बढ़ता है तो वहां पर उसको कुछ भी नजर नहीं आता है क्योंकि वहां पर और कोई नहीं बल्कि उसकी परछाई थी जो उसको पानी में नजर आ रही थी। 
  • अब उस कुत्ते ने अपने मुंह की हड्डी भी छोड़ दी थी और उसको दूसरी भी ना मिल सकी और वह पूरी रात भूखा रहा और अपने घर की तरफ निकल पड़ा। 
  • Moral of Storyइस कहानी से हमको यह शिक्षा मिलती है कि जीवन में अत्यधिक लालच भी खतरनाक होता है। लालच करने से हम अपने जीवन में जो हमारे पास होता है, उसको भी खो देते हैं। 

8) बुद्धिमान लोमड़ी की कहानी – 

Hindi Motivational Short Story with Moral

  • एक बार की बात है एक किसान अपने खेत में गाजर उगाया करता था। एक दिन वह सुबह उठता है और देखता है कि उसके खेत से किसी ने बहुत अधिक गाजर खा लिए थे लेकिन किसान को समझ नहीं आया कि उसके खेत से गाजर किसने खाए हैं। किसान परेशान हो गया लेकिन किसान क्या कर सकता था वह पूरी रात भर बैठकर खेत की निगरानी तो नहीं कर सकता था। वही लोमड़ी पास वाले जंगल में रहती थी तो एक दिन जंगल में आग लग गई । 
  • लोमड़ी किसान के घर के बाहर आ जाती है और वहां पर देखती है कि कुछ खरगोश मिलकर किसान की गाजर खा रहे थे। लोमड़ी खरगोश को वहां से भगा देती है। जिससे खुश होकर किसान ने लोमड़ी को बहुत सारा खाना दिया। इसके बाद लोमड़ी रोज खरगोश को वहां से भगा देती थी और बदले में किसान उस लोमड़ी को खाना दिया करता था। किसान और लोमड़ी इस तरह से अच्छे दोस्त बन जाते हैं। 
  • Moral of Story – इस कहानी से हम सभी को यह शिक्षा मिलती है कि यदि हम किसी भी व्यक्ति की सहायता करते हैं तो वह व्यक्ति भी हमारी सहायता करता है। 

9) हाथी की कहानी – Hindi Short Story for Kids  

Hindi Motivational Short Story with Moral

  • एक बार की बात है एक जंगल में चार अंधे आदमी घूमने के लिए जाते हैं तो उनको वहां पर एक हाथी मिलता है। तो वे चारो सोचते हैं कि असल में यह क्या है?
  • उनमें से एक व्यक्ति हाथी की टांग को पकड़कर कहता है कि यह तो कोई खंबा है। 
  • दूसरा व्यक्ति हाथी की सूंड को पकड़कर बोलता है कि यह तो कोई पाइप है। 
  • तीसरा व्यक्ति हाथी की पूंछ को पकड़कर कहता है कि यह तो कोई रस्सी है। 
  • चौथा व्यक्ति हाथी के कान को पकड़कर कहता है कि यह कोई पंखा है। 
  • इस तरह से चारों व्यक्ति अलग-अलग तरीके से सोचते हैं। लेकिन उसी वक्त एक बुद्धिमान व्यक्ति जंगल से गुजर रहा होता है। बुद्धिमान व्यक्ति उन चारों लोगों को कहते हैं कि तुम अपनी सोच को मिला दो और फिर सोचो कि यह असल में क्या है। 
  • जब चारों व्यक्ति ऐसा करते हैं तो उनको एहसास होता है कि यह तो एक हाथी है। 
  • Moral Hindi Short Story – इस कहानी से हमको टीमवर्क की शिक्षा मिलती है। यदि हम कोई भी कार्य टीम को साथ मिलाकर करते हैं तो उस कार्य के सफल होने की संभावना अधिक होती है। 

10) दो भेड़िए की कहानी – 

Hindi Motivational Short Story with Moral

  • एक बार की बात है कि पिता और बेटे एक स्थान से दूसरे स्थान पर जा रहे होते हैं। तभी बेटा पिता को कहता है कि पिताजी आप मुझे कोई कहानी सुनाइए। तो इस बात पर पिताजी अपने बेटे को कहानी सुनाने लग जाते हैं। पिताजी कहते हैं कि हर व्यक्ति के अंदर दो भेड़िए मौजूद होते हैं। एक भेड़िया तो अच्छा होता है। वही दूसरा भेड़िया बुरा होता है। 
  • अच्छा भेड़िया हमारी ईमानदारी और खुशी से पलता है। वही बुरा भेड़िया क्रोध, ईर्ष्या, गुस्से, दुख, बुराइयों से पलता है। तभी बेटा पूछता है कि पिताजी इन दोनों में से जीत किसकी होती है। पिताजी कहते हैं कि बेटा आप जिस भेड़िए को पालना चाहते हैं और जिसको भी भोजन खिलाते हैं, उसी की जीत होती है। 
  • यदि तुम ईमानदार बनकर रहते हो और किसी के साथ गलत नहीं करते हो तो अच्छे भेड़िए की जीत होती है। वहीं अगर तुम बुरा करते हो और बुराई को फैलाते हो तो बुरा भेड़िया जीतता है। 
  • Moral of Story – इस कहानी से हमको यह सीख(Lesson) मिलती है कि लाइफ में किसी भी कीमत पर गलत कार्य नहीं करने चाहिए। 

11) मगरमच्छ और बंदर की कहानी –
Hindi Motivational Short Story with Moral

  • एक समय की बात है कि एक नदी के किनारे जामुन का पेड़ होता है। जिस पर बंदर रहा करता था और वह दिन-रात उस जामुन के पेड़ पर बैठकर जामुन खाता था और अपने जीवन को बेहद ही आनंद में तरीके से बिताता था। 
  • वही उसी नदी में मगरमच्छ भी रहता था। एक दिन वह मगरमच्छ उस बंदर को जामुन खाते हुए देखता है और वह सोचता है कि जामुन खा र इस बंदर का दिल भी मीठा हो गया होगा तो क्यों ना इस बंदर को ही खा लिया जाए तो मगरमच्छ बंदर को कहता है कि हे भाई मेरी पत्नी ने तुम को खाने के लिए घर पर बुलाया है तो यह सुनकर बंदर खुश होता है और मगरमच्छ के साथ उसके घर चलने के लिए तैयार हो जाता है और बंदर मगरमच्छ की पीठ पर बैठकर चल पड़ता है। 
  • मगरमच्छ उसको नदी के बीच में लेकर चला जाता है और कहता है कि मैं तुम्हारा दिल खाना चाहता हूं। यह बात सुनकर बंदर परेशान हो जाता है लेकिन उसने समझदारी से काम लिया और बंदर मगरमच्छ को कहता है कि भाई तुमने मुझे पहले क्यों नहीं बताया क्योंकि मैं अपना दिल तो पेड़ के ऊपर ही छोड़ आया हूं तो पहले तुम मुझे वापस उस पेड़ पर ले कर चलो। उसके बाद मैं तुम्हें दिल दूंगा। 
  • यह सुनकर मगरमच्छ वापस नदी के किनारे जाता है। बंदर तुरंत उतरकर पेड़ पर चढ़ जाता है और मगरमच्छ को कहता है कि हे मूर्ख यहां से चले जाओ और दुबारा अपनी शक्ल मत दिखाना। 
  • Moral of Story – इस कहानी से हमको यह सीख(Lesson)मिलती है कि लाइफ में धोखेबाज लोगों से हमेशा दूर रहना चाहिए और उनपर विश्वास नहीं करना चाहिए। 

इन्हे भी पढ़े

निष्कर्ष (Conclusion)- 

  • इस लेख में हमने जाना है ” Hindi Motivational Short Story With Moral(2023)” Hindi Short Story for Kids ” उम्मीद करते हैं कि इस लेख में बताई गई सभी Motivational Hindi Story आप सभी को जरूर पसंद आई होगी। 
  • इन सभी मजेदार हिंदी स्टोरी को पढ़कर आप अपने जीवन में आगे बढ़ने की प्रेरणा ले सकते हैं और इन कहानियों की मदद से आप सीख सकते हैं कि जीवन में आपको क्या गलतियां नहीं करनी चाहिए। 
  • कहानियां(Stories) हमको बहुत कुछ सिखाती है। बस जरूरत होती है सीखने की। यदि आप इन कहानियों को सीखने के मकसद से पढ़ते हैं तो आप बहुत कुछ सीख सकते हैं। 
  • उम्मीद करते हैं कि इस लेख की जानकारी आप सभी को जरूर अच्छी लगी होगी। यदि आपके मन में कोई भी सवाल है तो हमको कमेंट करके जरूर बताएं और इन सभी मजेदार हिंदी कहानी “ को अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ शेयर करना ना भूले, धन्यवाद। 
  • Note – दोस्तों यदि आप किसी भी एक कहानी पर या अलग-अलग कहानियों पर हमसे लेख चाहते हैं तो नीचे हमको कमेंट करके उस कहानी के बारे में बताएं। हम कुछ समय में ही आपके लिए उस कहानी पर लेख लेकर आएंगे। 

Leave a Comment