Wednesday, October 5, 2022
HomeHealth and Fitnessहार्ट अटैक कैसे होता है, इसके के लक्षण और बचने के संपूर्ण...

हार्ट अटैक कैसे होता है, इसके के लक्षण और बचने के संपूर्ण उपचार

आजकल की खराब लाइफस्टाइल के कारण दिल की बीमारी या हार्ट अटैक आम बात बन चुकी है| पहले इस बीमारी को सिर्फ बुजुर्गों से जोड़ा जाता था पर अब कम उम्र में ही हार्ट अटैक से लोगों की जान जा रही है|

इस बीमारी के कई सारे कारण जैसे तनाव में रहना, अच्छी डाइट न लेना, नींद की कमी, मोटापा, ख़राब कोलेस्ट्रॉल (Non-high-density lipoprotein (HDL)) की मात्रा बढ़ जाना ऐसे अन्य कई सारे कारण है जिससे हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है|

Heart attack ke lakshan (हार्ट अटैक के लक्षण)

1) सीने में दर्द होना|

2) चक्कर आना|

3) बेचैनी महसूस होना|

4) सांस लेने में तकलीफ होना|

5) अचानक से पसीना आना|

6) थकान महसूस होना|

7) पंजे और टखने में सूजन आ जाना|

8) होठ नीले पड़ जाना|

9) लंबे समय तक सर्दी का बने रहना|

10) गुलाबी या सफ़ेद रंग का बलगम|

11) गर्दन, पीठ और कंधे दर्द करना|

12) उलटी होना|

13) पेट ख़राब होना|

Heart attack kaise hota hai? (हार्ट अटैक कैसे होता है?)

  • जब दिल की धमनियों में खून के थक्के (Blood clotting) जमने लगते है तब दिल की धमनियां संकुचित हो जाती है और इसी के कारण खून और ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में हमारे दिल तक नहीं पहुँच पाता और यही स्थिति हार्ट अटैक का कारण बनती है|
  • हार्ट अटैक का और एक सबसे बड़ा कारण है कोलेस्ट्रॉल| हमारे शरीर में जब ख़राब कोलेस्ट्रॉल यानिकि Non-HDL cholesterol अधिक मात्रा में बढ़ जाता है तब धमनियों के अंदरूनी हिस्से में उसकी परत जम जाती है और इससे रक्तप्रवाह कठिन हो जाता है जिससे हार्ट अटैक आ सकता है|

Heart attack se bachne ke upay (हार्ट अटैक से बचने के उपाय)

 1) ज्यादा तनाव न लें:

  • ज्यादा तनाव के कारण हमारा ब्लड प्रेशर बढ़ता है और इसी के साथ रक्त के थक्के बनने की भी संभावना होती है जिससे की वो आगे जाकर धमनियों में जम जाते है और इससे हार्ट अटैक की संभावना बढ़ जाती है| इसलिए किसी भी बात का तनाव ना लें, अपने मन को शांत रखें और जिन चीजों की वजह से आप को तनाव महसूस होता है उनके बारे में न सोचे|

2) बुरी आदतों से बचे:

  • बुरी आदत खासकर धूम्रपान (Smoking) करने से बचे क्योंकि ये आपके दिल के लिए बहुत ही ज्यादा हानिकारक है| धूम्रपान से आपके धमनियनों को नुकसान पहुंचता है, खून में ऑक्सीजन की मात्रा कम हो जाती है और दिल की धड़कन भी तेज हो जाती है| धूम्रपान के कारण आप को दिल की बीमारियां तो होती ही है पर साथ ही साथ इससे आपके फेफड़े ख़राब हो जाते है और कैंसर जैसी बीमारी का भी खतरा बना रहता है|

3) जंक फ़ूड न खाये:

Heart attack जंक फ़ूड न खाये

  • जंक फ़ूड के कारण हमारा ख़राब कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ता है और अच्छा कोलेस्ट्रॉल लेवल कम हो जाता है, इससे मोटापा बढ़ता है, डायबिटीज का खतरा भी होता है और साथ ही साथ अगर जंक फ़ूड में ज्यादा मात्रा में नमक मिलाया गया हो तो उससे हमारा ब्लड प्रेशर भी बढ़ता है और इन्ही सारी वजहों से दिल की बीमारीयों का खतरा बढ़ जाता है|

4) मोटापे को कम करें:

  • मोटापा बढ़ाने के कारण हमारी धमनियों में वसायुक्त पदार्थ (Fatty material) का निर्माण हो जाता है जिससे की धमनियों में रक्तप्रवाह ठिक तरह से नहीं हो पाता और ये स्थिति हार्ट अटैक का कारण बन जाती है| इसलिए अपने मोटापे को कम करें और अपने शरीर का वजन नियंत्रण में रखें|

5) इन चीज़ों को न खाये:

  • ज्यादा चीनी खाने के कारण ब्लड प्रेशर और डायबिटीज जैसी बिमारियों का खतरा बढ़ जाता है और साथ ही साथ हमारा मोटापा बढ़ता है और ये हमारे लिवर के लिए भी ठीक नहीं है और इन्ही के कारण दिल से जुडी बिमारियों का खतरा भी बढ़ जाता है|  इसलिए सॉफ्ट ड्रिंक या फिर केक, पेस्ट्रीज जैसी चीज़ें जिनमें बहुत ज्यादा मात्रा में चीनी मौजूद होती है न सब चीज़ों को न खाये|

6) मोबाइल का भी कम इस्तेमाल करें:

  • अगर आप को मोबाइल की लत है तो आज ही छोड़ दें क्योंकि मोबाइल फोन से विकिरण (Radiation) का उत्सर्जन होता है जिससे की शरीर के लाल रक्त कोशिकाओं से हीमोग्लोबिन का रिसाव (Leakage) होता है| हीमोग्लोबिन के रिसाव के कारण वो शरीर में जमा होने लगाता है जिससे दिल से जुडी बिमारियों का खतरा बढ़ जाता है इसलिए मोबाइल फोन का हद से ज्यादा इस्तेमाल न करें|

7) अच्छी डाइट लें:

  • हो सके तो घर का बना हुआ शुद्ध और पौष्टिक खाना ही खाएं और बाहर की चीजें खाने से बचें| अपने खाने में गोभी, पालक जैसी सब्जियों को शामिल करें| अनाज में गेहू, जौ, किनुआ, भूरे चावल (Brown rice) को शामिल करें और साथ ही साथ जामुन, टमाटर, एवोकाडो, अखरोट, बादाम, अलसी के बीज, लहसुन इन चीज़ों का भी सेवन करें क्योंकि ये सारी चीज़ें आपके दिल के स्वस्थ (Healthy) के लिए बहुत ही लाभकारी है|

8) अच्छी नींद लें:

  • नींद की कमी की वजह से उच्च रक्तचाप (High blood pressure) का खतरा रहता है और साथ ही साथ, दिल की गति (Heart rate) भी बढ़ जाता है और दिल पर दबाव पड़ता है और इसी वजह से हार्ट अटैक की संभावना बढ़ जाती है|इसलिए कम से कम 6 से 7 घंटे की नींद तो अवश्य लें|

9) मैडिटेशन और प्राणायाम:

  • मैडिटेशन और प्राणायाम तनाव को कम करते है, इनसे हमारे दिल की गति (Heart rate) धीमी हो जाती है और हमारा ब्लड प्रेशर भी नार्मल रहता है जिससे की दिल से जुडी बिमारियों का खतरा कम हो जाता है| खासकर अनुलोम-विलोम प्राणायाम दिल के लिए बहुत ही अच्छा माना जाता है इससे हाई कोलेस्ट्रॉल और डायबिटीज का खतरा कम हो जाता है| हररोज़ कम से कम 15 मिनट मैडिटेशन और 15 मिनट प्राणायाम जरूर करें|

10) व्यायाम करो:

  • व्यायाम से हमारी दिल की धमनियां लचीली बन जाती है जिससे रक्त प्रवाह अच्छा रहता है और साथ ही साथ ब्लड प्रेशर का भी खतरा कम हो जाता है| इसलिए हररोज़ कम से कम 30 से 45 मिनट तक व्यायाम ज़रूर करें जिसमे आप चलना, दौड़ना, रस्सी कूदना, तैरना या फिर साइकिल चलना जैसे व्यायाम कर सकते है|

11) रेग्युलर हेल्थ चेक अप करो:

Heart attack रेगुलर हेल्थ चेक अप करो

  • अगर हम रेग्युलर हेल्थ चेक अप करे तो 60 से 70 प्रतिशत बिमारियों पर पहले से ही रोक लगायी जा सकती है| अगर बात करें हार्ट अटैक की तो हार्ट अटैक कोई अचानक होने वाली बीमारी नहीं है इसका एक प्रमुख कारण है शरीर में बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल तो अगर हम समय रहते ही जांच के ज़रिये इसका पता लगा ले तो बढ़ी हुई कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को हमारे दिनचर्या में और आहार में बदलाव कर के कम कर सकते है|आप 6 महीने में एक बार हेल्थ चेक अप कर सकते है|

इन्हे भी पढ़ें

So guys आपको ये वाला article कैसे लगा ये comment section में ज़रूर बताना; साथ ही साथ कुछ suggestions हो तो बता देना और आपको किस topic पर article चाहिए ये भी बता देना|

आपका कोई personal question हो तो आप मुझे selfhelpinhindi@gmail.com पे मेल कर सकते हो|

Thank you, stay connected & love you guys…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments