Home Money and business घर का बजट कैसे बनाएं? पैसे की कमी कभी नहीं होगी जानिए...

घर का बजट कैसे बनाएं? पैसे की कमी कभी नहीं होगी जानिए बजट बनाने की विधि

0
455
घर का बजट कैसे बनाएं

आप चाहे जितने पैसे कमाओ पर अगर आपने अपने पैसों का सही से इस्तेमाल नहीं किया तो आपके पास पैसा ज्यादा समय तक टिक नहीं पायेगा और इससे आगे चलकर आपके ऊपर वित्तीय दबाव (Financial pressure) भी आएगा| तो ऐसे परिस्थिति से बचने के लिए आप को अपने खर्चों का हिसाब रखना बहुत ही ज़रूरी है जिससे की हमें हर एक चीज़ के ऊपर होने वाले खर्चों की जानकारी मिल सकें और उस हिसाब से हम अपने इनकम का कुछ हिस्सा उन चीज़ों पर खर्च कर सकें मतलब की हम एक बजट बनाकर अपना पैसा खर्च कर सकें| घर का बजट बनाने से हमें न सिर्फ अपने खर्चों के बारे में पता चल जाएगा बल्कि हमें कौन से खर्चों पर रोक लगानी है इसके बारे में भी पता चल जाएगा|

बजट का मतलब (Meaning of budget in Hindi):

तरह तरह के चीज़ों पर होने वाले खर्चों का अनुमान लगाना और उस लगाए गए अनुमान के हिसाब से उन चीज़ों पर पैसे खर्च कर देना इसी को हम बजट कहते है|

जैसे मानलो अगर आपने कार खरीदने के लिए 15 लाख रूपए खर्च करने का सोचा है तो इसका मतलब ये है की आपके कार खरदीने का बजट 15 लाख रुपए है।

बजट बनाते वक़्त ये चीज़ें ज़रूर याद रखें

1)  घर का बजट बनाने के चलते अपने परिवार वालों के खर्चों पर हद से ज्यादा पाबंदी न लगाए|

2) कभी कभी ऐसी चीज़ें हो सकती है जिससे की आपका खर्चे बढ़कर आपका घर का बजट हिल सकता है तो उसके लिए आप को पहले से तैयार रहे|

3) अपने बेसिक खर्च जैसे की रसोई में लगने वाली चीज़ें और ज़रूरी दवाइयों पर होने वाले खर्चों में कटौती न करें|

4) घर का बजट बनाते वक़्त अपनी फिजूल खर्ची को ध्यान में रखकर उसमे कटौती करें|

5) घर का बजट बनाते वक़्त अपने हर छोटे बड़े ख़र्चों पर ध्यान दें और ज़रूरी चीज़ों को ध्यान में रखकर ही अपना बजट बनाये|

बजट बनाने के फायदे

1) आप को अपने होने वाले खर्चों का पता चल जाता है|

2) आप अपने फिजूलखर्ची पर रोक लगाकर अपने खर्चे कम कर पाते है|

3) आप अपने भविष्य के लिए पैसे बचा पाते हो|

4) आप अपने पैसों का सही ढंग से इस्तेमाल कर पाते हो|

घर का बजट बनाते वक़्त इन चीज़ों को शामिल करें

1) बेसिक ख़र्चों का हिसाब रखें:

घर का बजट कैसे बनाएं बेसिक ख़र्चों का हिसाब रखें

  • घर का बजट बनाते वक़्त आपके महीने भर के जो भी बेसिक खर्चे है फिर चाहे वो ग्रोसरी हो, सब्जी हो या फिर महीने भर के जो भी छोटे बड़े खर्चे हो जिनसे आपका घर चलता है वो सारी चीज़ों की आप एक लिस्ट बनालें और उन सब चीज़ों में आपके कितने पैसे खर्च होते है उनका हिसाब लगाए इससे आप को आपके बेसिक खर्चों का पता लग जायेगा और उतने पैसे आप अपने टोटल इनकम से निकाल पाएंगे|

2) अतिरिक्त (Additional) खर्चों को ध्यान में रखें:

  • अतिरिक्त खर्चे जैसे की शॉपिंग, मोबाइल रिचार्ज, वाहन खर्च (Vehicle maintenance), दवाइयों का खर्च या फिर इन जैसे और भी कई सारे खर्चों को आप अतिरिक्त खर्चों में शामिल कर सकते हो और उतनी रकम अपने इनकम में से निकाल सकते हो|

3) आपातकालीन निधि (Emergency fund):

  • अगर आपके परिवार में अचानक से कोई बीमार पड़ गया, किसी का एक्सीडेंट हो गया या फिर कोई ऐसी घटना हो गयी जहा पर की एकदम से बहुत सारे पैसों की ज़रूरत पड़ जाये तो ऐसे वक़्त में आप को पैसों की दिक्कत न आये इसलिए आप पहले से ही emergency fund के रूप में कुछ पैसे बचाकर रखें ताकि ऐन वक़्त पर आप उसका इस्तेमाल कर सकें|
  • आप अपने महीने भर की इनकम के या फिर साल भर की इनकम के पांच से दस प्रतिशत पैसे emergency fund के लिए निकाल सकते है और वक़्त के साथ इसे बढ़ा भी सकते है|

4) फिजूल खर्च:

घर का बजट कैसे बनाए फिजूल खर्च

  • जब भी आप महीने भर का हिसाब करो तो ये ज़रूर देखो की वो कौनसी ऐसी चीज़ें है जिन पर आप फिजूल खर्च कर रहे है जैसे की लुभावने स्किम या सेल के चक्कर में पडकर शॉपिंग करना, अपने कुछ शौक को पूरा करने के लिए खर्चा करना, बुरी आदतों में पडकर पैसे बर्बाद करना, एंटरटेनमेंट के नाम पर हर हफ्ते मूवी देखने जाना या फिर ज्यादा बाहर का यानिकि होटल का खाना खाना ऐसी और भी कई सारी चीज़ें हो सकती है तो उन सब खर्चों पर आप रोक लगादें क्योंकि ये चीज़ें आपके घर का बजट को बिगाड़ देती है|

5) टैक्स और स्कूल / कॉलेज फीस:

  • कुछ खर्चे ऐसे भी होते है जिनपर आप रोक नहीं लगा सकतें जैसे की आपके घर का टैक्स, इनकम टैक्स, स्कूल या कॉलेज फीस| तो इन सब खर्चों को भी आप ध्यान में रखकर अपना घर का बजट बनाये|

6) बड़े खर्चे:

घर का बजट कैसे बनाएं बड़े खर्चे

  • आपके सालों की मेहनत के पैसे बड़े खर्चों में चली जाती है ऐसे कई सारे बड़े खर्चे है जैसे की शादी करना, घर या गाडी खरीदना, एक साथ कई सारे पैसे किसी बिज़नेस में लगाना या फिर ऐसे और भी कई सारे कारण है आपके सालों की मेहनत के पैसे खर्च हो जाते है| इसलिए इन बड़े खर्चों को भी आप अपने घर का बजट बनाते वक़्त ज़रूर शामिल करें|

7) ऑनलाइन पेमेंट:

  • आजकल हर छोटी बड़ी चीज़ खरीदने के लिए लोग ऑनलाइन पेमेंट का इस्तेमाल कर रहे है चूँकि हम पैसे ऑनलाइन तरिके से दे रहे है तो ऐसे में कई बार हम छोटे बड़े ऑनलाइन लेन-देन (Online transaction) का हिसाब रखना भूल जाते है और बाद में जाकर हमें अपने खर्चों का ठीक से हिसाब नहीं लग पाता| इसलिए छोटे बड़े ऑनलाइन लेन-देन भी अपने घर का बजट बनाते वक़्त ज़रूर शामिल करें|

Conclusion

तो आज इस आर्टिकल के ज़रिये हम ने जाना की सिर्फ पैसे कमाना important नहीं है बल्कि उसके साथ साथ हम उन पैसों को कैसे खर्च कर रहे है ये भी देखना important है और ये पता करने के लिए घर का बजट बनाना बहुत ज़रूरी है जिसमे घर के बेसिक खर्चे, emergency fund, अतिरिक्त खर्चे, टैक्स, स्कूल या कॉलेज फीस और बड़े खर्चे जैसे की शादी इन सभी प्रकार के खर्चों का हिसाब रखना पड़ता है|

So guys आपको ये वाला article कैसे लगा ये comment section में ज़रूर बताना; साथ ही साथ कुछ suggestions हो तो बता देना और आपको किस topic पर article चाहिए ये भी बता देना|

आपका कोई personal question हो तो आप मुझे selfhelpinhindi@gmail.com पे मेल कर सकते हो| Thank you, stay connected & love you guys…

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here