आज तक दुनिया में जितने भी सफल लोग हुए है उन सब ने अपनी ताकत यानिकि अपनी strength को पहचानकर उसपर काम किया और इसीलिए वो अपने जीवन में इतना काबिल बन पाए| लेकीन बहुत सारे लोग ऐसे भी होते है जिन्हें अपनी strength के बारे में पता ही नहीं होता और इसीलिए वो अपने जिंदगी वो मुकाम हासिल नहीं कर पातें जो वो करना चाहते है|

अगर हम अपनी Strength को पहचान जाते है तो हम उस Strength के Basis पर अपना अच्छा करियर बना सकते है| अपनी Strength को पहचानने के लिए आप को कुछ बातों को ध्यान में रखना ज़रूरी है और आज इस आर्टिकल में हम इसी के बारे में जानेंगे ताकि आप भी अपने strengths को पहचानकर उस पर अच्छे से काम कर सको और अपनी Strength को पहचानकर हम उसी strength के ज़रिये जिंदगी में आगे बढ़ सको|

अपनी Strength को पहचानने के कुछ बेहतरीन तरीके

1) अपनी सफलताओं (Achievements) को याद करो:

apni strength kaise pahchane अपनी सफलताओं (Achievements) को याद करो

  • जिंदगी में आज तक आप को जो भी सफलता मिली है जैसे की आप को स्कूल या कॉलेज में अच्छी स्पीच देने पर आप को कोई प्राइज मिला हो या आपका स्पोर्ट्स में अच्छा परफॉरमेंस रहा हो या फिर आप को सिंगिंग, डांसिंग, एक्टिंग या ऐसे ही किसी और प्रकार के कॉम्पिटिशन में आप को प्राइज मिला हो; तो जिस भी प्रकार की सफलताएं आज तक आप को मिली है उन सब को आप एक कागज पर लिखो|
  • अब आप देखोगे की जितनी भी आपकी सफलताएं है उनमें ही आपकी Strengths छुपी हुयी है| जैसे अगर आप को स्पीच देने पर प्राइज मिला है तो आप में कम्युनिकेशन स्किल्स, लीडरशिप स्किल्स, स्टेज डेरिंग ये सभी चीज़ें आप में strengths के रूप में मौजूद है| ऐसे ही आप अपने Achievements के Basis पर अपनी Strength को पहचान सकते हो|

2) आप किस चीज़ में माहिर हो ये देखो:

  • रोज़मर्रा की जिंदगी में हम ढेर सारी चीज़ें करते है पर उनमें से कुछ चीज़ें ऐसी होती है जो हम औरों से अच्छी कर सकते है जैसे की कंप्यूटर चलाना, कुकिंग करना, कथाएं (Stories) या कवितायें लिखना या फिर ऐसी कोई स्किल या काम जिसमें औरों के मुकाबले आप अच्छे हो; तो जिन चीज़ो में आप माहिर हो दरअसल वही आपकी Strength है|

3) आपका इंटरेस्ट पता करो:

  • ज़रा सोचो और देखो की कौन सी ऐसी चीज़ है जो आप को बेहद पसंद है, जिसे करने पर आप जल्दी थकते नहीं और दूसरों के मुकाबले में भी आप उस चीज़ में अच्छे हो; तो जिस चीज़ में भी आपका इंटरेस्ट है वही आपकी Strength है|

4) नयी चीज़ें सीखो:

apni strength kaise pahchane नयी चीज़ें सीखो

  • कभी कभी हम जब नयी चीज़ें सीखते है तब उन्हीं चीज़ों में हमारा इंटरेस्ट बनने लगता है और फिर बाद में वही चीज़ें अपनी Strength बन जाती है| इसलिए समय समय पर नयी नयी चीज़ें ज़रूर सीखते रहो क्या पता धीरे धीरे आपका उस चीज़ में इंटरेस्ट बढ़ता जाये, आप उसमें माहिर हो जाये और भविष्य में भी आप को उस चीज़ का फायदा हो और उसी चीज़ में आप अपना करियर बनाओ|

5) अपनी कमजोरियों पर काम करो:

  • हम में से ज्यादातर लोग अपनी कमजोरियों से भागते है लेकिन अगर हम अपने कमजोरियों को जानकर उनपर सही से काम करें तो हमारी कमजोरियां ही हमारी खूबियाँ बन जाएंगी| इसलिए बिना किसी डर के हम जिन चीज़ों में कमजोर है या जिन चीज़ों में हमें बार बार असफलता मिली है उन चीज़ों पर लगातार हमें काम करना होगा ऐसा करने से धीरे धीरे उस चीज़ का डर आपके अंदर से ख़त्म हो जाएगा, आप उन चीज़ों में माहिर बनोगे और और वो चीज़ जिसमें आप कमजोर हो वो आपकी ताकत बन जायेगी|

Conclusion

तो इस आर्टिकल के ज़रिये हमने जाना की कैसे हम अपने इंटरेस्ट को पहचानकर, अपने Achievements के Basis पर और हम किस चीज़ में माहिर है ये देखकर अपनी Strengths को पहचान सकते है| इसके अलावा हम समय समय पर नयी चीज़ें सीखकर और अपनी कमजोरियों पर काम कर के भी हम उन्हें अपनी Strength यानिकि अपनी ताकत में बदल सकते है|

इन्हें भी पढ़ें

So guys आपको ये वाला article कैसे लगा ये comment section में ज़रूर बताना; साथ ही साथ कुछ suggestions हो तो बता देना और आपको किस topic पर article चाहिए ये भी बता देना|

आपका कोई personal question हो तो आप मुझे [email protected] पे मेल कर सकते हो| Thank you, stay connected & love you guys…