Monday, November 28, 2022
HomeHealth and Fitnessजानिए नकारात्मक सोच का नुकसान, लक्षण और कारण

जानिए नकारात्मक सोच का नुकसान, लक्षण और कारण

वैसे तो हमें जीवन में हमेशा सकारात्मक दृश्टिकोण रखना चाहिए पर जीवन में काफी सारी ऐसी चीज़ें हो जाती है जिसके कारण हमारा जीवन को देखने का नजरिया बदल जाता है और हमारी सोच नकारात्मक बन जाती है| तो ये नकारात्मक सोच क्या है? इसके लक्षण और नुकसान क्या है इन सब के बारे में हम इस आर्टिकल में जानेंगे| जिससे की आप अपना जीवन बेहतर बना पाए और इस नकारात्मक सोच से और इससे होने वाले नुकसान से बच पाएं|

नकारात्मक सोच क्या है?

  • हमारी खुद की मानसिकता के कारण, हमारे आस पास के माहौल के कारण, लोगों के कारण या फिर अतीत में घटी कुछ बुरी घटनाओं के कारण हमारे मन में गुस्सा, निराशा, उदासी, अपराध भावना, दूसरे के प्रति हिन भावना, बदले की भावना, डर याफिर असफलता की भावना उत्पन्न होती है और ये सभी भावनाये हमारे मन में बसी नकारात्मक सोच ही है|

नकारात्मक सोच के लक्षण

1) हर चीज़ में कमियां निकलना|

2) छोटी छोटी बातों पर दूसरों पर गुस्सा होना या उनसे लड़ाई करना|

3) दूसरों से ईर्ष्या करना|

4) हमेशा खुद को ही बड़ा समझना और दूसरों को नीचा दिखाना|

5) खुद की गलती न मानना|

6) दुसरो के बारे में अच्छा न सोचना|

7) दूसरों के प्रति अच्छा व्यवहार न रखना|

8) अपने आप की दूसरों से तुलना करना और खुद को दूसरों से कम समझना|

9) दूसरों को अपने हिसाब से नियंत्रित (Control) करने की कोशिश करना|

ये सभी नकारात्मक सोच के लक्षण है….

नकारात्मक सोच के कारण

1) हमारे अतीत के कुछ बुरे अनुभवों के कारण हम नकारात्मक सोचने लगते है|

2) हमारी मानिसकता के कारण हमारी सोच नकारात्मक बन जाती है|

3) हमारे आस पास के माहौल के कारण हमारे मन में नकारात्मकता पैदा होती है|

4) आस पास के लोगों के बर्ताव के कारण हमारे मन में नकारात्मकता पैदा होती है|

5) बहुत बड़ा नुकसान हो जाने के कारण हम नकारात्मक सोच से घिर जाते है|

6) किसी बुरी घटना के कारण हमारी सोच नकारात्मक बन जाती है|

7) लाइफ में बार बार असफलता आने के कारण हमारे मन में नकारात्मक सोच पैदा होती है|

8) अधिक चिंता करने के कारण हम नकारात्मक सोचने लगते है|

नकारत्मक सोच से होने वाले नुकसान

1) हम दूसरों से तुलना करते है:

  • नकारात्मक सोच के कारण हमारी लाइफ में हम एक सकारात्मक दृश्टिकोण से जी नहीं पातें और हम अपनी लाइफ को दूसरों की लाइफ के साथ तुलना करने लग जाते है और खुद की नज़र में अपने आप को ही कम आंकने लगते है भलेही फिर आपने लाइफ में कितनी भी सफलता प्राप्त की हो पर इस नकारात्मक सोच का नुकसान ये होता है की हमें हमेशा खुद से ज्यादा दूसरों की लाइफ अच्छी लगती है|

2) हम अपना आत्मविश्वास खो देते है:

नकारात्मक सोच आत्मविश्वास खो देते है

  • नकारात्मक सोच के कारण हम अपने आप को दूसरों से कम समझने लगते है और हमें हमारी सिर्फ कमियां ही नज़र आती है मतलब एक तरह से हम अपनी खूबियों को भूल जाते है| इसके कारण हम निराश हो जाते है और इस वजह से हम अपना आत्मविश्वास खो बैठते है|

3) तनाव, डिप्रेशन और चिंता:

  • अगर हम लंबे समय तक नकारात्मक सोच से घिरे रहते है तो इससे हम तनाव और डिप्रेशन का तक का शिकार बन सकते है और साथ ही साथ किसी भी बात को लेकर हम हद से ज्यादा चिंता (Anxiety) करने लगते है|

4) नींद में दिक्कत:

  • जैसे की हमने कहा की हमारी नकारात्मक सोच हमारे तनाव और चिंता का कारण बनती है, हमें अंदर से हताश महसूस कराती है और इसी भावनाओं के कारण हमें नींद आने में दिक्कत होती है और हम अनिद्रा का शिकार होते है|

5) रिश्तों में तनाव:

  • नकारात्मक सोच के कारण हम दूसरों में हमेशा कमियां ढूंढते है, अगर सामनेवाले की कोई गलती ना भी तो हम अपने मन में ही कुछ बातें कल्पना कर के उस इंसान को दोषी समझने लगते है, हम दूसरों को समझ नहीं पाते है और हम दूसरों के साथ दुर्व्यवहार भी करने लगते है| इन सब के कारण एक दूसरों में अनबन होती है, झगडे होने लगते है, रिश्तों में तनाव आ जाता है और आपके इस बर्ताव के कारण लोग आप से दूर होने लगते है|

6) ब्लड प्रेशर और दिल की बीमारी:

  • नकारात्मक सोच के कारण हमारे शरीर में तनाव के हार्मोन यानिकि एड्रेनालाईन और कोर्टिसोल का स्तर बढ़ता है जिसके कारण हमारे दिल की धड़कनों की गति असंतुलित हो जाती है, लंबे समय तक तनाव में रहने से शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ती है, रक्त के थक्के (Blood clotting) की समस्या हो जाती है, दिल की धमनियों में सूजन आ जाती है और हमारा ब्लड प्रेशर भी असंतुलित हो जाता है|

7) चिड़चिड़ापन:

नकारात्मक सोच चिड़चिड़ापन

  • नकारात्मक सोच के करण हम चीज़ों को ढंग से समझ नहीं पातें, हम सभी चीज़ों को कण्ट्रोल करने की कोशिश करते है और जब चीज़ें हमारे हिसाब से नहीं होती तो हमें चिड़चिड़ापन महसूस होता है|

ये भी पढ़ें: Negative Thoughts को रोकने का उपाय

Conclusion

तो आज इस आर्टिकल के ज़रिये हमने नकारात्मक सोच के नुकसान के बारे में जाना जिसमे नकारात्मक सोच क्या है, इसके लक्षण क्या है और इससे हमारे जीवन में क्या प्रभाव पड़ सकता है जिसमे की  रिश्तों में तनाव, नींद की समस्या, तनाव और डिप्रेशन, ब्लड प्रेशर और दिल से जुडी समस्या ये नकारात्मक सोच के कुछ प्रमुख नुकसान के बारे में हमने जाना|

इन्हे भी पढ़े

So guys आपको ये वाला article कैसे लगा ये comment section में ज़रूर बताना; साथ ही साथ कुछ suggestions हो तो बता देना और आपको किस topic पर article चाहिए ये भी बता देना|

आपका कोई personal question हो तो आप मुझे selfhelpinhindi@gmail.com पे मेल कर सकते हो| Thank you, stay connected & love you guys…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments