Health Tips: जानिए गर्म पानी पीने के फायदे व नुकसान

गर्म पानी के कई स्वास्थ्य लाभ हैं क्योंकि यह हाइड्रेटेड रहने में मदद करता है। गर्म पानी पाचन में सुधार करता है, तनाव से राहत देता है और आपके रक्तचाप को नियंत्रित करने में सहायता करता है। कुछ विशेषज्ञों का मानना है कि ठंडे पानी की तुलना में गर्म पानी विशेष रूप से आपके पाचन में सुधार करता है, भीड़ से राहत देता है और विश्राम को भी बढ़ावा देता है। गर्म पानी आपके वजन को नियंत्रित करने और आपके शरीर पर वसा के स्तर को कम करने में भी मदद करता है। गर्म पानी की वजह से जब शरीर में रक्त का संचार बेहतर होता है तो आप तनावमुक्त और खुश महसूस करते हैं। शरीर में विटामिन सी के स्तर को बढ़ाने के लिए गर्म पानी में नींबू का रस मिलाना बेहतर होता है। 

हां लेकिन याद रखो की गर्म पानी पीने के फायदे व नुकसान भी है इसलिए आप जो गर्म पानी पी रहे हो उसका टेम्परेचर 54 से 71 डिग्री सेल्सियस तक ही होना चाहिए क्योंकि इससे ज्यादा टेम्परेचर का पानी आपके शरीर के आंतरिक अंगों (Internal body parts) को नुकसान पहुंचा सकता है। बहुत अधिक गर्म पानी या चाय पीने से आपके स्वाद के ऊतक जल सकते हैं और यह आपके शरीर के अंगों को नुकसान पहुंचा सकता है; तो आईये आज इस आर्टिकल में हम गर्म पानी पीने के फायदे व नुकसान के बारे में जान लेते है।

दिनभर में कितना गर्म पानी पीना चाहिए?

  • एक दिन में लगभग आप 3 गिलास गर्म पानी पी सकते है लेकिन उससे ज्यादा नहीं क्योंकि गर्म पानी पीने के फायदे व नुकसान भी है। आप खाना खाने से लगभग 30 से 40 मिनट पहले और खाना खाने के लगभग 1 घंटे बाद आप गर्म पानी पी सकते है और फिर उसके बाद अपने ज़रूरत के हिसाब से 30 से 40 मिनट बाद नॉर्मल टेम्परेचर वाला पानी पी सकते है।  साथ ही साथ सुबह उठकर खाली पेट एक से दो गिलास गुनगुना पानी पीने से शरीर को बहुत फायदा पहुँचता है।

गर्म  पानी का टेम्परेचर कितना होना चाहिए

  • आप जो गर्म पानी पी रहे हो उसका टेम्परेचर लगभग 54 से 71 डिग्री सेल्सियस तक होना चाहिए; क्योंकि जैसे की हमने बताया की गर्म पानी पीने के फायदे व नुकसान भी है तो ऐसे में अगर आप

 ज्यादा टेम्परेचर वाला पानी पीने से आपके शरीर को नुकसान पहुंचता है। 

गर्म पानी पीने के फायदे:

1) वजन घटता है:

वजन घटता है

  • जल्दी वजन कम करने के लिए गर्म पानी पीना जरूरी है। शोध से पता चला है कि खाना खाने के लगभग 30 से 40 मिनट पहले लगभग 500 मिलीलीटर गर्म पानी पीने से मेटाबॉलिज्म की गतिविधि बढ़ सकती है। गर्म पानी शरीर के चयापचय की क्षमता को 40% तक बढ़ा देता है और शरीर से अधिकांश फैट कम हो जाता है। 
  • अगर आप शरीर की चर्बी कम करना चाहते हैं तो इस संबंध में गर्म पानी आपकी बहुत मदद कर सकता है। लोगों को अपने वजन को नियंत्रित करने में मुश्किल होती है, खासतौर पर ऑफिस में लंबे समय तक काम करने वाले लोगों को। अगर आप सिटिंग जॉब कर रहे हैं तो बेहतर होगा कि आप अपने शरीर में अतिरिक्त चर्बी से बचने के लिए गर्म पानी पिएं।

2) शरीर का दर्द कम करता है:

  • गर्म पानी शरीर में रक्त परिसंचरण (Blood circulation) और रक्त प्रवाह में सुधार करता है। अगर आपको मांसपेशियों में दर्द हो गया है तो गर्म पानी पीने से मांसपेशियों का दर्द कम होता है। गर्म पानी मांसपेशियों की सूजन में विशेष रूप से सहायक होता है क्योंकि यह घायल मांसपेशियों के माध्यम से रक्त प्रवाह को smooth रखता है। मांसपेशियों में चोट लगने पर गर्म पानी का उपयोग करने से वास्तव में दर्द की तीव्रता कम हो जाती है और आप दर्द को सहन कर सकते हैं।

3) नाक की भीड़ से छुटकारा:

  • गर्म पानी में नाक की भीड़ (Nasal congestion) को दूर करने की क्षमता होती है। आपके साइनस और गले में म्यूकस मेम्ब्रेन होता है, गर्म पानी पीने से आपको गले के दर्द से राहत पाने में मदद मिलती है। गर्म पानी बलगम के निर्माण की तीव्रता को कम करता है और यह नाक की भीड़ को साफ करने में आपकी मदद करता है। शोध के अनुसार, गर्म पानी की चाय आपको बहती नाक, खांसी, गले में खराश से जल्द और स्थायी राहत प्रदान कर सकती है। फ्लू और सर्दी के दौरान गर्म पानी पीने से आप आराम महसूस कर सकते हैं।

4) पाचन में सहायक:

पाचन में सहायक

  • गर्म पानी पीने से पाचन तंत्र चलता रहता है और गर्म पानी वास्तव में आपके पाचन तंत्र को सक्रिय करता है। गर्म पानी से शरीर में जमा हुआ मैल बहार आने में मदद होती है और जब आप गर्म पानी पी रहे हों। यह आपके वजन को नियंत्रित करने और वसा के पाचन में सहायता करने में भी सहायता करता है। शोध से पता चला है कि गर्म पानी उन खाद्य कणों को भंग कर सकता है जिन्हें पचाने में आपके पाचन तंत्र को मुश्किल होती है।

5) केंद्रीय तंत्रिका तंत्र में सुधार:

  • गर्म पानी वास्तव में तंत्रिका तंत्र (Nervous system) की दक्षता में सुधार करता है और चिंता के प्रभाव को कम करता हैं। जब आप पर्याप्त मात्रा में पानी पी रहे होते हैं तो आपका दिमाग अधिक सुचारू रूप से काम करता है। आप देख सकते हैं कि ठंडा पानी पीने वाले लोगों की तुलना में गर्म पानी पीने वाले लोग अधिक सक्रिय रहते हैं। गर्म पानी पीने वाले लोगों में वास्तव में चिंता और अवसाद का प्रभाव कम होता है।

6) कब्ज से छुटकारा दिलाता है:

  • गर्म पानी पीने से आंतों की पाचन क्षमता बढ़ती है। गर्म पानी पीना कब्ज का एक सरल और प्रभावी उपाय है और यह मल को नरम करने में सहायता करता है और यह कोलन से गुजरना आसान बनाता है। इसलिए गर्म पानी पीने से यह सुनिश्चित होता है कि आप बिना किसी अतिरिक्त दवा के कब्ज से बच सकते हैं। अपने आहार में कम मात्रा में फाइबर खाने वाले लोगों में कब्ज हो सकता है। कब्ज एक आम बीमारी है जो हमारे शरीर में रक्तचाप और मतली जैसी विभिन्न प्रकार की अक्षमता का कारण बन सकती है।

7) Blood circulation में सुधार:

  • गर्म पानी Blood circulation (रक्त परिसंचरण) तंत्र में रक्त के प्रवाह में सुधार करता है और आप हृदय रोग से बच सकते हैं। गर्म पानी आपके संचार अंगों, आपकी रक्त धमनियों और नसों को फैलाने में मदद करता है और उनके माध्यम से रक्त के सुचारू प्रवाह को सुनिश्चित करता है। जब आपका रक्त संचार तंत्र ठीक से काम कर रहा होता है, तब आप स्वस्थ और सक्रिय महसूस कर सकते हैं। जब व्यक्ति का रक्त संचार तंत्र बेहतर होता है तो वह हृदय से जुड़ी बीमारियों से बच सकता है। स्वस्थ और सक्रिय जीवन के लिए एक सक्रिय, उचित कार्यशील हृदय आवश्यक है।

8) तनाव के स्तर को नियंत्रित करता है:

तनाव के स्तर को नियंत्रित करता है

  • गर्म पानी पीने से केंद्रीय तंत्रिका तंत्र के कामकाज में मदद मिलती है। अगर आप लगातार गर्म पानी पी रहे हैं तो यह आपको एंग्जाइटी स्ट्रेस लेवल को कंट्रोल करने में मदद करता है। यहां मुख्य बात यह है कि जब आपके पास बेहतर रक्त परिसंचरण तंत्र होता है तो आप अपने तंत्रिका तंत्र पर अधिक तनाव और तनाव का सामना कर सकते हैं।

9) सर्दी जुकाम से राहत मिलती है: 

  • सर्दी जुकाम जैसी बीमारी होने पर डॉक्टर हमें गर्म पानी पीने की सलाह देते है क्योंकि इससे सर्दी और जुकाम में हमें काफी राहत मिलती है।  

गर्म पानी पीने के नुकसान :

जैसे की हमने बताया की गर्म पानी पीने के फायदे व नुकसान भी है तो आईये जान लेते है ज्यादा गर्म पानी पीने से क्या क्या नुकसान हो सकते है

1) शरीर को नुकसान पहुंचता है

  • बहुत अधिक गर्म पानी यानिकि 71 डिग्री सेल्सियस के ऊपर अगर उस पानी के टेम्परेचर है तो उससे अन्नप्रणाली में ऊतकों (Tissues) को नुकसान पहुंचा सकता है, और स्वाद कलियों को जला सकता है, आपकी जीभ जल सकती है और शरीर के अन्य भागों को जैसे की किडनी को भी ज्यादा गर्म पानी पीने से नुकसान पहुंच सकता है। 

2) इसोफेगस को नुकसान पहुँचता है

  • ज्यादा गर्म पानी पीने से हमारे शरीर में इसोफेगस नाम की नाली होती है जो हमारे मुँह से होकर पेट तक जाती है उसमे छोटे छोटे दाने निकल आते है और इससे जलन होती है।

3) डिहाइड्रेशन की समस्या होती है:

डिहाइड्रेशन की समस्या होती है

  • ज्यादा गर्म पानी पीने से डिहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है यानिकि शरीर में पानी की कमी हो सकती है।

इन्हे भी पढ़े

Conclusion

  • तो आज इस आर्टिकल के ज़रिये हमें जाना की गरम पानी कब और कितना पीना चाहिए? साथ ही साथ हमने गर्म पानी पीने के फायदे व नुकसान के बारे में जाना जैसे की कब्ज से राहत मिलती है, वजन कम करने में मदद होती है, शरीर का दर्द कम होता है, नाक की भीड़ से छुटकारा मिलता है, केंद्रीय तंत्रिका तंत्र (Central nervous system) में सुधार आता है, Blood circulation अच्छा होता है, तनाव का स्तर कम हो जाता है। इसके अलावा ज्यादा गर्म पानी पीने से शरीर को नुकसान भी पहुंच सकता है जैसे की स्वाद कालिया और जीभ जल सकती है, किडनी को नुकसान पहुँच सकता है, इसोफेगस को नुकसान पहुँचता है और डिहाइड्रेशन की समस्या होती है।

Leave a Comment