Wednesday, October 5, 2022
HomeRelationshipएंग्जायटी क्या है? जानिए एंग्जाइटी के लक्षण और घरेलु उपाय

एंग्जायटी क्या है? जानिए एंग्जाइटी के लक्षण और घरेलु उपाय

हम हमारे शरीर का तो अच्छे से ध्यान रखते है पर हमने कभी हमारे मानसिक स्थिति के बारे में सोचा है? कई बार हमारे दिमाग में बसे negative thoughts के कारण, past experience के कारण, अपने mindset के कारण और भी कई सारे कारणों से हमारी मानसिक स्थिति पर बहुत बुरा असर पड़ता है और हम तरह तरह की मानसिक बीमारी का शिकार होते है और एंग्जायटी भी उन्ही मानसिक बिमारियों में से एक है|

वैसे देखा जाए तो एंग्जायटी सब में होती है और ये हमारे लिए अच्छी है क्योंकि एंग्जायटी यानिकी थोड़ी बहुत चिंता और डर के कारण ही हम अपनी लाइफ में आगे बढ़ पाते है पर अगर ये चिंता हद से ज्यादा बढ़ जाए तो ये हमारे मानसिक स्वास्थ्य के साथ साथ हमारे शारीरिक स्वास्थ्य के लिए भी हानिकारक है| कुछ घरेलू उपायों को अपनाने से एंग्जायटी से छुटकारा पाया जा सकता है और आज इस आर्टिकल में इसी के बारे में बात करेंगे|

एंग्जायटी क्या है?

  • एंग्जायटी एक ऐसी मानिसक स्थिति है जिसमें की हम किसी भी चीज़ को लेकर हद से ज्यादा सोचने लगते है, हमें परेशानी होती है और उस चीज़ से जुडी परिणामों के बारे में सोचकर हमें अंदर ही अंदर घबराहट होने लगती है, हम बेचैनी महसूस करते है और हम निराशा से घिर जाते है|

एंग्जायटी के लक्षण

1) कमजोरी और थकान महसूस होना|

2) सोने में परेशानी होना|

3) घबराहट और बेचैनी महसूस होना|

4) तनाव महसूस होना|

5) पसीना आना|

6) दिल की गति तेज़ होना|

7) चिड़चिड़ापन होना|

8) बहुत जल्दी निराश होना|

9) बेवजह की बातों को सोचकर परेशान होना|

एंग्जायटी के कारण

1) रिश्तों में तनाव के कारण एंग्जायटी होती है|

2) किसी तरह की गंभीर बीमारी होने के कारण एंग्जायटी होती है|

3) बिज़नेस या जॉब में आये वर्क प्रेशर के कारण एंग्जायटी होती है|

4) किसी करीबी इंसान की मृत्यु होने जाने के कारण या कोई व्यक्ति हमेशा के लिए छोड़कर चले जाने के कारण एंग्जायटी होती है|

5) शराब और सिगरेट की लत के कारण एंग्जायटी होती है|

एंग्जायटी से बचने के कुछ घरेलु उपाय

1) एंग्जायटी का कारण पता करें:

  • वैसे तो एंग्जायटी के बहुत सारे कारण है जैसे की आप को हेल्थ से रिलेटेड कोई दिक्कत है, किसी बात का डर आप को सता रहा है या फिर past experience के कारण आप को कोई negative thoughts आ रहे है ऐसे और भी बहुत सारे कारण हो सकते है|
  • तो पहले कारण को पता करें और फिर उसपर आप एक्शन लें मतलब आप उस problem का क्या हल निकालने की कोशिश करें और ऐसे में हो सके तो किसी करीबी इंसान की, परिवारवालों की या फिर एक्सपर्ट की भी हेल्प ले सकते है|

2) मैडिटेशन करें:

एंग्जायटी के घरेलू उपाय मैडिटेशन करें

  • मैडिटेशन करने से आपके मन में जो नकारात्मक विचार चल रहे है वो ख़त्म हो जाते है और इससे आपका मन शांत हो जाता है| इससे आप को शारीरिक तौर पर भी बहुत अच्छा फायदा मिलता है इसलिए हररोज़ कम से कम 10 से 15 मिनट मैडिटेशन ज़रूर करें|

3) Breathing exercises:

  • Breathing exercises को करने से भी आपके मन में चल रहे नकारात्मक विचार रुक जाते है, आपका तनाव कम हो जाता है और साथ ही साथ आपका शरीर भी बिलकुल relax हो जाता है|
  • एंग्जायटी से बचने के लिए आप 4-7-8 breathing technique को अपनाओ इसमें 4 सेकंड के लिए साँस लेनी है फिर 7 सेकंड के लिए उस साँस को रोकना है और फिर 8 सेकंड के लिए उस साँस को छोड़ना है| आप daily 5 से 10 मिनट तक इस breathing exercise को कर सकते हो और धीरे धीरे इसे बढाकर 20 मिनट तक भी इस exercise को कर सकते है|

4) Gratitude:

  • आपके जीवन में जो कुछ भी पॉजिटिव चीज़े है जैसे की आपकी अच्छी फॅमिली, अच्छे दोस्त, आपकी जॉब, आपके पास जो चीज़ें और जो luxuries उपलब्ध है उन सब के बारे में आप हररोज़ सुबह के समय में लिखो और इसके लिए ईश्वर का धन्यावाद करो|
  • इससे हमारे दिमाग में पॉजिटिव विचार आते है, आपका तनाव कम होता है, आप ज्यादा खुश रहने लगते हो, इसका हमारे शरीर पर भी बहुत अच्छा प्रभाव पड़ता है और हम एंग्जायटी से खुद को बचा पाते है|

5) ये बातें भी याद रखें:

  • एंग्जायटी से बचने के लिए आप ज्यादा से ज्यादा समय अपने ज़रूरी कामों में busy रहे, अपने hobbies को follow करें, अपनी मनपसंद जगह पर घूमने चले जाए, शराब और सिगरेट से दूर रहे, अच्छे दोस्त बनाये, अपने फॅमिली के साथ वक़्त बिताये, अपने आप को समय दें, खुद का अच्छे से खयाल रखें, अच्छा म्यूजिक सुने और सिर्फ ज़रूरी चीज़ों के बारे में सोचे और जिन चीज़ों से आप को नेगेटिव फील होता है या फिर तनाव आता है ऐसी चीज़ों का न सोचें|

6) हेल्थी रहें:

एंग्जायटी के घरेलू उपाय हेल्थी रहें

  • अपने आप को healthy और fit रखने के लिए रोज़ अच्छी डाइट लें, पर्याप्त मात्रा में पानी पीये, रोज़ कम से कम 30 मिनट एक्सरसाइज करें ये आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए ज़रूरी है और इससे आप एक्टिव भी रहते हो| रात में 9 से 10 बजे के बीच सो जाए और कम से कम 7 से 8 घंटो की अच्छी नींद लें| इसके अलावा जंक फ़ूड और बाकी unhealthy चीज़ों को न खाये|
  • अपने मानसिक स्वास्थ्य का भी खयाल रखें इसके लिए नेगेटिव चीज़ों से दूर रहे, नेगेटिव विचारों को अपने ऊपर हावी न होने दे, किसी भी बात को लेकर ज्यादा न सोचें और अपने आप को टेंशन फ्री रखने की कोशिश करें|

7) Self talk करें:

  • अपने आप से पॉजिटिव बातें करें, आप कैसा महसूस कर रहे है, आपके मन में कैसे विचार आ रहे है ये देखने की कोशिश करें, नेगेटिव विचारों को अपने ऊपर हावी न होने दे और अपने आप को पॉजिटिव विचारों से भर दें चाहे तो आप इसके लिए affirmations का भी इस्तेमाल कर सकते है और जब आप खुद से बातें करते हो, अपनी फीलिंग्स का और अपने मन में चल रहे विचारों का खयाल रखते हो तो आप काफी हद तक स्ट्रेस और एंग्जायटी से खुद को बचा पाते हो|

8) माफ़ करें:

  • अगर किसी ने आपके साथ कुछ गलत किया है या आप को बहुत तकलीफे दी है तो ऐसे में हम उसी चीज़ के बारे में बार बार सोचकर अपने आप को और ज्यादा परेशान कर लेते है, बार बार उसीके बारे में सोचकर गुस्सा हो जाते है, तनाव में आ जाते है और हमें एंग्जायटी भी होती है| इन सबसे बचने के लिए आप को मन ही मन में उस इंसान को माफ़ कर देना है और माफ़ करने के बाद उस इंसान के बारे में सोचना बंद कर देना है|
  • वैसे ही अगर आपसे किसी तरह की गलती हुयी है और उस की वजह से आप अपने आप को कोस रहे हो, खुद पर गुस्सा हो रहे हो और तनाव में आ रहे हो तो ऐसे situation में आप खुद को भी अपनी पिछली गलतियों के लिए माफ़ कर दें| इससे आपके अंदर छिपी गहरी भावनाएं, नकारात्मक विचार, मन की उदासी और तनाव दूर हो जाते है और आप अंदर से हलका महसूस करते है और जिंदगी को खुलकर जी पाते है|

9) अपनी भावनाओं को मत दबाओ:

एंग्जायटी के घरेलू उपाय अपनी भावनाओं को मत दबाओ

  • अगर आपके मन में नेगेटिव विचार आ रहे है और उसीके वजह से आप को बेचैनी महसूस हो रही है और आप अंदर से नेगेटिव भी महसूस कर रहे हो तो ऐसे में आप किसी करीबी इंसान से अपनी मन की बातें शेयर करो जैसे की आपके मन में क्या चल रहा है, आप अंदर से कैसा महसूस कर रहे हो और आप को किस बात को लेकर परेशान हो इन सब के बारे में उनसे खुलकर बात करो|
  • बातें शेयर करने से आपका तनाव चला जाएगा, आप अंदर से हलका महसूस करोगे| नहीं तो जितना आप अपने विचार और भावनाओं को अपने अंदर दबाओगे उतनी ही ज्यादा आपकी एंग्जायटी बढ़ती जायेगी|

10) एरोमाथेरपी:

  • एरोमाथेरपी में फूलों, पत्तियों, बीजों, फलों और जड़ों या फिर पौधों से सुगंधित तेल निकाला जाता है और इन तेलों को सूंघने से स्ट्रेस और एंग्जायटी में रहत मिलती है| आप अपने रूम में डिफ्यूजर का इस्तेमाल करें या रुई में सुगंधित तेल की बुँदे छिड़क कर रखें जिससे आपके रूम में तेल की खुशबु फ़ैल जायेगी और ये आपके स्ट्रेस और एंग्जायटी को कम करेगी| एरोमाथेरपी में एंग्जायटी को दूर रखने के लिए लैवेंडर और संतरे का तेल बहुत ही प्रभावी है|

11) विचारों पर जल्दी विश्वास मत करो:

  • अगर किसी बात को लेकर आपके दिमाग में कोई negative thought आये तो आप को तुरंत ही उस बात को लेकर ज्यादा गंभीर नहीं होना है बल्कि उसे एक संदेश की तरह लेना है और ऐसा सोचना है की दिमाग हमें उस चीज़ के बारे में अलर्ट कर रहा है|
  • जैसे की अगर बहुत जल्दी आपके एग्जाम है और आपके दिमाग में fail होने के विचार आ रहे है तो तुरंत ही विश्वास कर के उस विचार को अपने ऊपर हावी नहीं होने देना है बल्कि इस विचार को लेकर अलर्ट हो जाना है और अच्छे से पढ़ाई करनी है| मतलब आप को दिमाग में आये गए उस विचार पर तुरंत ही एक्शन लेकर काम शुरू कर देना है|

12) मनोचिकित्सक की सलाह लो:

  • घरेलु उपाय तो कारगर है ही लेकिन अगर आप को हद से ज्यादा एंग्जायटी महसूस हो रही है तो बेहतर होगा की आप किसी मनोचिकित्सक भी सलाह लें ताकि आपकी मेंटल हेल्थ नार्मल हो सकें|

इन्हे भी पढ़े

So guys आपको ये वाला article कैसे लगा ये comment section में ज़रूर बताना; साथ ही साथ कुछ suggestions हो तो बता देना और आपको किस topic पर article चाहिए ये भी बता देना|

आपका कोई personal question हो तो आप मुझे selfhelpinhindi@gmail.com पे मेल कर सकते हो| Thank you, stay connected & love you guys…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments